About Us

2017 Hindu Spiritual and Service Fair

नमस्ते! हिंदू आध्यात्मिक और सेवा मेला गाजियाबाद में आप सभी का स्वागत करते हैं . मेला हिन्दू दर्शन की अभिव्यक्ति “ईशा वास्यम इदं सर्वं” को प्रदर्शित करता है. संपूर्ण सृष्टि की एकात्मता के सिद्धांत पर मानव कल्याण को समर्पित हिन्दू जीवन दर्शन का जीवंत प्रदर्शन और विभिन्न संस्थाओं के सेवा कार्यों को एक मंच देने का अद्भुत प्रयास है । यह “आत्मनो मोक्षार्थं जगत हिताय च” की उक्ति पर आधारित है जिसका मतलब है अपने मोक्ष और विश्व के कल्याण के लिए । इन मूलभूत सिद्धांतो पर आधारित हिन्दू अध्यात्मिक और सेवा फाउंडेशन ने अनेकों हिन्दू और सेवा संस्थानों का संगम शुरू किया है. विभिन्न तरीकों के साथ, अलग अलग तरह के दर्शकों के लिए लेकिन एक विचार के साथ, जो है धर्म और जिसका उद्देश्य है सेवा.यह विशाल प्रयास क्यों ? हिन्दू आध्यात्मिकता न केवल मानवता बल्कि सम्पूर्ण स्रष्टि निर्जीव और सजीव दोनों की सेवा करती है सेवा का कार्य और उसके प्रति जागरूकता ही मेले का मुख्य उद्देश्य है हमारे पूर्वजों ने इस राष्ट्र को भूमि के एक टुकड़े के रूप में नहीं देखा बल्कि मूल्य आधारित जीवन शैली की दैवीय अभिव्यक्ति विकसित की जो हिंदू के रूप में जानी जाने लगी । भारत में सभी परम्पराएँ माता पिता का आदर करती हैं, शिक्षकों का आदर करती हैं, वन-वनस्पति का आदर करती हैं, जीव-जन्तुओं से सद भाव रखती है,पेड़ों का आदर करती हैं, पहाड़ों-नदियों का आदर करती हैं, अर्थात सब कुछ पवित्र है

मेला समकालीन चुनोतियों पर भी ध्यान केद्रित करता है चाहे वो पर्यावरण हो, पारिस्थितिकी संतुलन हो, प्रदुषण हो, महिलाओं के प्रति सम्मान हो या वृद्धों के प्रति आदर या हमारे वीर सैनिकों के प्रति सम्मान आइये हम हमारी समृद्ध संस्कृति और विरासत का अनुभव करें, अपनी प्रथाओं को समझें, भव्य प्रदर्शनी का साक्षी बने और इस देश निर्माण के आन्दोलन में सहभागी बनें । 14 से 17 दिसम्बर तक कवि नगर, रामलीला मैदान में लगने वाले हिन्दू अध्यात्मिक मेले में परिवार सहित सहभाग करें । हिन्दू अध्यात्मिक और सेवा मेला गाजियाबाद